भारत के यातायात के नियम, चिन्ह का मतलब निबंध | Traffic Rules Essay Signs symbols meaning In India in hindi

By | फ़रवरी 12, 2021

भारत के यातायात के नियम व चिन्ह का मतलब निबंध Traffic Rules Signs and symbols meaning In India in hindi

यदि आप सड़क पर सुरक्षित यात्रा करना चाहते है, तो इसके लिए आपको भारत सरकार द्वारा निर्धारित ट्रैफिक रूल्स को का पालन करना अत्यंत आवश्यक है । यदि आप ट्रैफिक रूल्स का पालन नहीं करेंगे तो ड्राइविंग करते समय आप किसी भी समय दुर्घटना का शिकार हो सकते है ।

आप सुरक्षित रहें तथा सुरक्षित अपने गंतव्य तक पहुंचे इसके लिए यह केवल जरूरी ही नहीं है, बल्कि एक जिम्मेदार नागरिक होने के नाते आपका कर्तव्य भी है कि आप ट्रैफिक रूल्स (Traffic Rules) का पालन करें । जिससे सड़क पर केवल हम ही सुरक्षित ना रहे बल्कि हम दूसरों को भी सुरक्षित रखने में अपनी जिम्मेदार भूमिका निभाय ।

आप रोजाना ही न्यूज़पेपर तथा टीवी न्यूज़ में एक्सीडेंट के बारे में देखते तथा पढ़ते होंगे । ज्यादातर एक्सीडेंट केवल इसी कारण होते है, क्योंकि लोगों को अपनी मंजिल तक पहुंचने की जल्दी होती है । जिस कारण वे जल्दबाजी में गलत ड्राइविंग करते है  या ट्रैफिक रूल को सही तरीके से नहीं फॉलो करते है, तथा एक्सीडेंट कर बैठते है ।

इसलिए ट्रैफिक रूल को फॉलो करना बहुत ज्यादा जरूरी है । यदि आपको मालूम नहीं है कि ट्रैफिक रूल क्या होते है तथा ट्रैफिक से संबंधित कौन-कौन से सिंबल्स होते है , तो आप इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें ।

भारत में यातायात के नियम Traffic Rules in India in Hindi

भारत सरकार ने यातायात के विभिन्न नियम दिए है, जिनका पालन करके हम स्वयं को तथा अपने समाज को सुरक्षित रख सकते है । नीचे हमने भारत सरकार द्वारा निर्धारित यातायात के नियम (Traffic Rules) के बारे में विस्तार से बताया है ।

गलत ओवरटेक ना करें Don’t Do Wrong Overtake while driving in hindi

यातायात के नियमों में सबसे पहला तथा सबसे महत्वपूर्ण नियम है गलत तरीके से ओवरटेक करना । आज के समय में अधिकांश दुर्घटनाएं गलत ओवरटेक करने के कारण ही होती है । लोग जल्दबाजी में, अनुभव की कमी के कारण या यातायात के नियमों का पता ना होने के कारण गलत तरीके से ओवरटेक करते हैं । जिस कारन दुर्घटना होने की संभावना काफी हद तक बढ़ जाती है । ध्यान रखें –

  • यदि आगे के वाहन की स्पीड बहुत ज्यादा है तो ओवरटेक करने की कोशिश ना करें ।
  • यदि घुमावदार मोड है तो भी ओवरटेक करने की कोशिश ना करें या ओवरटेक समय बहुत अधिक सावधानी रखें

एक तरफा रोड One Sided Road

यदि आप किसी ऐसे हाईवे पर यात्रा कर रहे है जिसमें एक तरफा रोड है अर्थात आने और जाने का केवल एक ही मार्ग है तो उस स्थिति में आप अनुशासन का परिचय दें तथा बाएं और ही ड्राइविंग करें । ओवरटेक करने की कोशिश करते समय यदि आप अपोजिट साइड में आ जाते है, तो दुर्घटना होने की संभावना बन जाती है । इसलिए कुछ समय के लिए धीरे-धीरे ही ड्राइविंग करें

लेन अनुशासन Lane Discipline

सड़क पर यात्रा करते समय ज्यादा ट्रैफिक होने पर आपको lane में भी यात्रा करनी पड़ सकती है । लेन की यात्रा करते समय अनुशासन का परिचय दें तथा लाइन को बिल्कुल भी ना तोड़े । क्योंकि कुछ दूरी पर जाने पर lane अपने आप ही समाप्त हो जाएगी तथा आप सामान्य स्पीड पर यात्रा करनी शुरू कर देंगे।

यु टर्न U Turn

यू टर्न लेते समय ड्राइवर को विशेष सावधानी रखने की आवश्यकता होती है । वैसे तो यू टर्न लेने का कोई नियम नहीं है लेकिन फिर भी ड्राइवर की सुविधा के लिए U turn पर कोई विशेष प्रतिबंध नहीं है । लेकिन ध्यान रखें जब भी आप यु टर्न ले आगे तथा पीछे की तरफ ध्यान रखें ।

हाथ द्वारा सिग्नल Hand Signal

सड़क पर यात्रा करते समय यदि पीछे से कोई वाहन horn देता है तथा आपको overtake करने की कोशिश करता है तो उसी स्थिति में आप हाथ के द्वारा सिग्नल देकर उसे या तो रुकने के लिए कह सकते है या उसे ओवरटेक करने के लिए आगे बढ़ने का इशारा कर सकते है । ऐसा करने से पीछे वाला वाहन समझ जाता है कि आप उसे ओवरटेक करना देना चाहते है या नहीं । यह भी यातायात का बहुत ही अच्छा नियम है ।

स्पीड का ध्यान रखें Notice your Speed

वाहन चलाते समय अपनी स्पीड का विशेष ध्यान रखें । बहुत से शहर ऐसे होते है जहां आप किसी विशेष एरिया में ज्यादा तेज स्पीड से वह नहीं चला सकते । हॉस्पिटल, स्कूल, कॉलेज, मंदिर, गुरुद्वारा के आसपास तेज वाहन नहीं चलाना चाहिए ।

लगातार हॉर्न ना बजाएं Do not play the horn continuously

ड्राइविंग करते समय यदि आप अपने से आगे के वाहन को ओवरटेक करना चाहते है या उसे overtake करना चाहते है, तो लगातार होरन ना बजाएं । हो सकता है अगला वाहन भी आगे बढ़ने का प्रयास कर रहा हो लेकिन ज्यादा ट्रैफिक की वजह से आगे ना बढ़ पा रहा हो ।

पार्किंग करते समय ध्यान रखें Take care while parking

जब भी आप किसी भीड़ भाड़ वाली जगह पर अपनी गाड़ी को पार करते है, तो ध्यान रखें गाड़ी किस प्रकार पार्क करें । पहले से खड़ी हुई दूसरी गाड़ियों को निकालने में दिक्कत ना हो । कुछ लोग अपनी गाड़ियां इस तरीके से पार्क करते है कि पहले से खड़ी हुई गाड़ियां तब तक नहीं निकाली जा सकती जब तक दूसरी गाड़ी को वहा से हटाया ना जाए । यह अनुशासनहीनता तथा असामाजिकता का परिचय है । इसलिए समझदारी का परिचय दें ।

भारत में यातायात के मुख्य संकेत (Traffic signals Meaning )

सड़क पर यात्रा करते समय यातायात के संकेत का पालन करना बेहद जरूरी है । भारत सरकार के द्वारा यातायात के संकेत बनाए गए है जो बड़े-बड़े शहरों में प्रत्येक चौराहे पर लाल पीली तथा हरी  लाइट के रूप में लगे होते है । आइए इसके बारे में भी जानते है ।

लाल लाइट: चौराहे पर लगी लाइट में लाल रंग की लाइट यह दर्शाती है की आप रुक जाएं तथा तब तक रुके रहे जब तक यह लाइट जलती रहेगी ।

पीली लाइट: चौराहे पर लगी हुई लाइट में पीली लाइट यह दर्शाती है कि आप चलने के लिए तैयार हो जाएं तथा कुछ ही सेकंड में आपको आगे बढ़ना होगा ।

हरी लाइट: चौराहे पर लगी हुई हरी लाइट में यह दर्शाती है कि आप आगे बढ़ सकते है ।

भारत में महत्वपूर्ण यातायात के चिन्ह (Important Traffic Sign in India)

1 No Entry

एक तरफा ट्रैफिकइस जगह मे गलत साइड मे वाहन का ले जाना स्वीकार नही होता है.

2 One way traffic

एक तरफा ट्रैफिकइस जगह मे गलत साइड मे वाहन का ले जाना स्वीकार नही होता है.

3 Vehicles prohibited in both direction

दोनों दिशा में वाहन चलाना वर्जित हैइस एरिया मे कोई भी वाहन का ले जाना स्वीकार नही होता है.

4 No left turn

बाएँ हाथ में नहीं मुड़ना है इस साइन का मतलब होता है की आप बाएँ हाथ में न मुड़े.

5 No right turn


दाएँ हाथ में नहीं मुड़ना है इस साइन का मतलब होता है की आप दाएँ हाथ में न मुड़े.

6 No overtaking


नो ओवरटेकिंगइस साइन का मतलब होता है की आप किसी भी वाहन से आगे निकलने की कोशिश न करें.

8 No parking


नो पार्किंगइस एरिया मे किसी को भी अपने वाहन खड़े करने की अनुमति नही होती है.

9 No stopping


नो स्टॉपिंगइस एरिया मे किसी भी वाहन को चलते समय रुकने की अनुमति नही होती है.

10. यू टर्न


यू – टर्न इस जगह पर आप किसी भी वाहन को वापस यू – टर्न नहीं कर सकते हैं.

11. ट्रक वर्जित हैं


इस जगह पर ट्रक का चलना वर्जित होता है, अर्थात यहाँ बड़े वाहन को चलने की अनुमति नहीं होती है.

12. साइकिल वर्जित


इस जगह पर साइकिल जैसे वाहन का आना वर्जित होता है. अर्थात छोटे वाहन का आना वर्जित होता है.

13. बैल गाड़ी, तांगा या हाथ गाड़ी वर्जित


बैल गाड़ी, तांगा या हाथ गाड़ी वर्जित हैं इस जगह पर बैल गाड़ी, तांगा या किसी भी तरह की हाथ गाड़ी का आना वर्जित होता है.

14. पैदल व्यक्ति वर्जित


पैदल चलने वाले व्यक्ति वर्जित हैं इस जगह पर पैदल चलने वाले व्यक्ति का आना निषेध है.

15. सभी मोटर वाहन वर्जित हैं

इसका अर्थ यह होता है कि इस जगह पर किसी भी तरह के मोटर वाहन का आना मना हैं.

भारत में यातायात के प्रतीक (Traffic symbols in India)

भारत में उपरोक्त यातायात के चिन्ह हैं जो आपको रास्ते में चलते समय सावधानी के तौर पर प्रदर्शित किये जाते हैं. इसके अलावा यहाँ कुछ ऐसे प्रतीक हैं. जिनके बारे में जानकर आप आगे का रास्ता आसानी से तय कर सकते हैं, जोकि इस प्रकार हैं –

क्र.. यातायात के प्रतीक यातायात के प्रतीक का नाम यातायात के प्रतीक का अर्थ 
1. हाई लिमिट  इस साइन का मतलब होता है की इस एरिया मे दी गई लिमिट से ज्यादा के वाहन नही निकल सकते.
2. बयां मोड़ इस साइन का मतलब होता है की आगे आपको बाएँ ओर मुड़ना है.
3. पशु इसका मतलब यह होता है कि इस जगह पर पशुओं का डेरा होता हैं
4. साइकिल क्रासिंग इस प्रतीक का मतलब होता हैं कि आगे साइकिल क्रासिंग हैं
5. चट्टानों का गिरना इसका मतलब यह होता हैं कि आगे के रास्ते में मौसम के कारण चट्टानें रोड पर गिर सकती हैं.
6. नौका यह संकेत ड्राईवर को एक नदी के पार नौकायन पार करने की स्थिति के बारे में चेतावनी देने के लिए होता हैं.
7. बाएँ हैर्पिन मोड़ यह तब उपयोग किया जाता है जब दिशा में परिवर्तन इतना महत्वपूर्ण होता हैं कि वह दिशा के रेवेर्सल के बराबर होता हैं. यहाँ यह संरेखण के आधार पर बाएँ ओर झुका हुआ हैं.
8. बाएँ हाथ का कर्व इसका उपयोग तब किया जाता है जब संरेखण की दिशा बदलती हैं यह गति को कम करने और सावधानी से चलने के लिए चेतावनी होता हैं.
9. बाएँ रिवर्स मोड़ इसका उपयोग तब होता है जब रिवर्स मोड़ की प्रकृति आवागमन तक पहुँचने के लिए स्पष्ट नहीं हैं.
10. खुली बजरी इसका उपयोग तब किया जाता है जब तेजी से आने वाले वाहनों द्वारा बजरी को फेंक दिया जा सकता है.
11. पुरुष कम पर है इसका उपयोग तब होता है जब पुरुषों या मशीनों के द्वारा सड़क पर कोई काम चल रहा होता है. काम पूरा हो जाने के बाद यह हटा दिया जाता हैं.
12. नैरो ब्रिज यह प्रतीक पुल आने के पहने लगाया जाता हैं. जहाँ प्रतिबंध या पहिया गार्ड के बीच की चौड़ाई गाड़ी की सामान्य चौड़ाई से कम है.
13. नैरो रोड यह संकेत अधिकतर ग्रामीण क्षेत्र में पाया जाता है, जहाँ फूटपथ की चौड़ाई में अचानक कमी से यातायात के लिए खतरा पैदा होता है.
14. पैदल चलने वालों की क्रासिंग यह प्रतीक ज़ेबरा क्रासिंग आने के पहले बनाया जाता हैं. ताकि वाहन की रफ्तार कम की जा सकें.
15. दाएँ हैर्पिन मोड़ यह तब उपयोग किया जाता है जब दिशा में परिवर्तन इतना महत्वपूर्ण होता हैं कि वह दिशा के रेवेर्सल के बराबर होता हैं. यहाँ यह संरेखण के आधार पर दाएँ ओर झुका हुआ हैं.
16. दाएँ रिवर्स मोड़ इसका उपयोग तब होता है जब रिवर्स मोड़ की प्रकृति आवागमन तक पहुँचने के लिए स्पष्ट नहीं हैं.
17. दाएँ हाथ का कर्व इसका उपयोग तब किया जाता है जब संरेखण की दिशा बदलती हैं यह गति को कम करने और सावधानी से चलने के लिए चेतावनी होता हैं.
18. सड़क मार्ग यह संकेत अधिकतर ग्रामीण क्षेत्र में पाया जाता है, जहाँ चौड़ाई में अचानक वृद्धी से यातायात के लिए खतरा पैदा होता है. जैसे कि दो लेन की सड़क, अचानक दोहरी गाड़ी के मार्ग को चौड़ा कर देती हैं.
19. स्कूल जहाँ स्कूल की इमारतें व मैदान सड़क के आस – पास होते हैं वहाँ यह प्रतीक लगाया जाता है ताकि स्कूल से बच्चे सुरक्षित रहें.
20. सड़क में फिसलन इसका उपयोग फिसलन वाली सड़क आने के पहले किया जाता है.
21. खड़ी चढ़ाई  यह प्रतीक तेजी से आने वाले वाहनों के लिए चढ़ाई आने वाली रोड के पहले लगाया जाता हैं. ताकि ट्रैफिक के लिए खतरा पैदा न हो.
22. ढलान यह प्रतीक तेजी से आने वाले वाहनों के लिए उतार आने वाली रोड के पहले लगाया जाता हैं. ताकि ट्रैफिक के लिए खतरा पैदा न हो. और वाहन नियंत्रित रहे.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *