नरेन्द्र मोदी का जीवन परिचय | Narendra Modi Biography in hindi

By | March 13, 2021
narendra modi biography in hindi
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

नरेंद्र मोदी एक ऐसा नाम है, जिसे भारत ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में शायद ही कोई ना जानता हो भारत में बच्चा बच्चा नरेंद्र मोदी को जानता है । क्योंकि आप भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री है । नरेंद्र मोदी वर्तमान में हमारे देश के 15 प्रधानमंत्री के रूप में कार्यरत है ।

इससे पहले आप 2014 के लोकसभा चुनाव में भी भारी बहुमत के साथ जीत हासिल कर चुके है, तथा भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर कद्दावर नेता होने के कारण आपको देश का प्रधानमंत्री चुना गया था । आपने दोबारा इतिहास को दोहराया तथा 2019 के लोकसभा चुनाव में भी भारतीय जनता पार्टी को जीत दिलाकर दोबारा देश के प्रधानमंत्री बने।

भारतवासी नरेंद्र मोदी को बहुत अधिक प्यार करते है, तथा उनको लगता है, कि अब भारतवर्ष की बागडोर सुरक्षित हाथों में है । आप भी जनता के विश्वास पर खरे उतर रहे है, तथा अपने अपने कार्यकाल में बहुत से ऐसे ऐतिहासिक निर्णय लिए जो देश की दिशा और दशा दोनों को बदलने में मील का पत्थर साबित हो रहे है ।

लोग आपको प्यार से नमो कह कर पुकारते है । आपने जो ऐतिहासिक निर्णय लिए है, उनके कारण आपके विरोधियों की लिस्ट लगातार लंबी होती चली गई तथा लगभग लगभग सभी विपक्षी दल आपके ऊपर आक्रामक रूप से टिप्पणी करते रहते है । नरेंद्र मोदी एक अद्वितीय प्रतिभा एवं पर्सनालिटी के स्वामी है ।

आपके बारे में जितना लिखा जाए उतना ही कम होगा लेकिन फिर भी इस लेख में हमने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में विस्तार से लिखने का प्रयास किया है । तो आइए जानते है, नरेंद्र मोदी का जीवन परिचय

Table of Contents

नरेंद्र मोदी जी का जन्म एवं परिचय

परिचय बिंदु (Introduction Points) परिचय (Introduction)
पूरा नाम (Full Name) नरेंद्र दामोदरदास मोदी
अन्य नाम (Other Name) मोदी जी, नमो
पेशा (Profession) राजनेता
राजनीतिक पार्टी (Political Party) भारतीय जनता पार्टी
जन्म तिथि (Birth Date) 17 सितंबर, 1950
उम्र (Age) 68 साल
जन्म स्थान (Birth Place) वडनगर, बॉम्बे स्टेट (वर्तमान में गुजरात), भारत
राष्ट्रीयता (Nationality) भारतीय
गृहनगर (Hometown) वडनगर, गुजरात, भारत
धर्म (Religion) हिन्दू
जाति (Caste) मोध घांची (ओबीसी)
ब्लड ग्रुप (Blood Group) A+
पता (Address) 7 रेस कोर्स रोड, नई दिल्ली
वैवाहिक स्थिति (Marital Status) विवाहित
शैक्षणिक योग्यता (Educational Qualification) पोलिटिकल साइंस में बीए एवं एमए
राशि (Zodiac Sign / Sun Sign) कन्या
कद (Height) 5 फुट 7 इंच
वजन (Weight) 75 किलोग्राम
आंखों का रंग (Eye Colour) काला
बालों का रंग (Hair Colour) सफ़ेद
भारत के प्रधानमंत्री के रूप में वेतन (Salary) 1 लाख 60 हजार रूपये प्रति माह और साथ ही अन्य भत्ता
नेट वर्थ (Net Worth) 2.28 करोड़ रूपये
कार संग्रह (Car Collection) इनके नाम पर कोई कार रजिस्टर नहीं है

नरेंद्र मोदी का शुरुआती जीवन Narendra Modi Early Life in Hindi

नरेंद्र मोदी गुजराती है, तथा इनका जन्म गुजरात राज्य के मेहसाणा जिले के बड़नगर में 17 सितंबर 1950 को हुआ । नरेंद्र मोदी के पिता का नाम स्वर्गीय श्री दामोदर दास मूलचंद मोदी है, जोकि एक छोटे से सड़क व्यापारी थे । आपकी माता की राबेन एक ग्रहणी थी ।

नरेंद्र मोदी के परिवार की आर्थिक स्थिति शुरू से ही अच्छी नहीं थी, तो आपने बचपन से ही अपने जीवन में काफी संघर्ष को झेला था यही कारण था कि आपने काफी समय तक रेलवे स्टेशन पता बस टर्मिनल के आसपास चाय बेचकर अपने परिवार की आर्थिक स्थिति में योगदान दिया ।

लेकिन नरेंद्र मोदी कभी भी इस संघर्ष से पीछे नहीं हटे तथा उन्हें दरिद्रता से दृढ़ता से इस संघर्ष को पार किया और अपने जीवन में नए मुकाम हासिल किए ।

नरेंद्र मोदी का परिवार Narendra Modi Family in Hindi

नरेंद्र मोदी के बारे में उनके पिता स्वर्गीय श्री दामोदरदास मूलचंद मोदी, माता हीराबेन, भाई सोमा मोदी, अमृता मोदी, प्रह्लाद मोदी, पंकज मोदी, बहने वसंतीबेन हसमुखलाल मोदी तथा उनकी पत्नी जशोदाबेन जमुनालाल मोदी । नरेंद्र मोदी की कोई संतान नहीं है ।

नरेंद्र मोदी घांची तेली समुदाय से संबंधित है, जोकि अन्य पिछड़ा वर्ग की श्रेणी में आता है । नरेंद्र मोदी के बड़े भाई सोमा मोदी स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी रह चुके है । जो फिलहाल रिटायर हो चुके है । इनके दूसरे बड़े भाई अमृत मोदी एक मशीन संचालक है, तथा इनके दो छोटे भाई भी है ।

प्रहलाद मोदी जो कि एक शॉप की पर है, तथा दूसरी छोटे भाई पंकज मोदी है । जो गांधीनगर में सूचना विभाग में कलर के रूप में काम करते है । नरेंद्र मोदी की शादी 18 साल की आयु में जशोदाबेन जमुनालाल के साथ हुई थी ।

नरेंद्र मोदी अपनी पत्नी के साथ कुछ ही समय तक रहे तथा उसके बाद उन्होंने बिना तलाक दिए अपनी पत्नी के साथ रहना बंद कर दिया । उनकी पत्नी जशोदाबेन गुजरात के एक सरकारी विद्यालय में शिक्षिका के रूप में कार्यरत है । जिससे उन्होंने अपने जीवन का निर्वाह किया रिटायर हो चुकी है ।

यह जिज्ञासा सभी लोगों के मन में रहती है, कि नरेंद्र मोदी के कितने बच्चे है । आपको जानकर आश्चर्य होगा कि नरेंद्र मोदी की कोई संतान नहीं है ।

नरेंद्र मोदी की पढ़ाई लिखाई Narendra Modi Education in Hindi

नरेंद्र मोदी ने अपनी शुरुआती शिक्षा वडनगर के सरकारी स्कूल से प्राप्त की तथा उन्होंने दसवीं क्लास तक की पढ़ाई कंप्लीट की । परिवार की आर्थिक स्थिति अच्छी ना होने के कारण उन्होंने अपनी पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी तथा भारतीय संस्कृति एवं भारतीय मूल्यों को पहचानने के लिए भ्रमण पर निकल पड़े ।

नरेंद्र मोदी शुरुआती समय में कई वर्षों तक ऋषिकेश तथा हिमालय में रहे वहां रहकर उन्होंने भारतीय ऋषि-मुनियों से सनातन धर्म वेदों शास्त्रों का ज्ञान प्राप्त किया तथा काफी समय योग और अध्यात्म में अपना जीवन बिताया ।

नरेंद्र मोदी के मन में कुछ नया करने की इच्छा थी । उनकी इच्छा थी भारत को अदृश्य तत्वों से बचाएं जो भारत माता को अंदर ही अंदर खोखला करने में लगी हुई है । यही सोचकर उन्होंने राजनीति की ओर अपना कदम बढ़ाने का प्रयास किया । क्योंकि वे जानते थे कि राजनीति में आए बिना तथा सत्ता के बिना कुछ नहीं कर सकते ।

नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर से सन 1978 में उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए भारत के दिल्ली यूनिवर्सिटी में तथा उसके बाद गुजरात यूनिवर्सिटी में प्रवेश लिया तथा यहां इन्होंने राजनीति विज्ञान में स्नातक तथा स्नातकोत्तर की उपाधि प्राप्त की । यहीं से नरेंद्र मोदी के राजनीतिक जीवन की शुरुआत हुई थी ।

नरेंद्र मोदी का शुरुआती राजनीतिक सफर Narendra Modi Political Career in Hindi

राजनीति शास्त्र में स्नातक तथा स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के बाद नरेंद्र मोदी ने भारतीय राजनीति में अपना कदम बढ़ाया । सबसे पहले नरेंद्र मोदी अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद में शामिल हो गए ।

यहां इनके बहुत से अच्छे अच्छे दोस्त बन गए इनके साथ मिलकर नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ आर एस एस का खूब प्रचार प्रसार किया । क्योंकि r.s.s. एक हिंदू राष्ट्रवादी संगठन था जो भारतीय संस्कृति तथा भारतीय मूल्यों को बचाने में लगातार प्रयासरत था । इसके लिए नरेंद्र मोदी को अहमदाबाद जाना पड़ा ।

आर एस एस का प्रचार प्रसार करते हुए नरेंद्र मोदी बहुत से ऐसे विवादों में घिर गए जिनका सीधा असर उस समय की सत्ताधारी पार्टी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पर दिखने लगा तथा उस समय की तत्कालीन प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी ने राष्ट्रीय आपातकाल घोषित कर दी तथा r.s.s. पर भी प्रतिबंध लगा दिया ।

उस समय r.s.s. समर्थक नरेंद्र मोदी की कांग्रेस के द्वारा गिरफ्तारी का वारंट भी निकल गया । गिरफ्तारी के डर से नरेंद्र मोदी अपना भेस बदल कर देश में इधर-उधर घूमते रहे ।

इस घटना के बाद r.s.s. का नरेंद्र मोदी पर विश्वास पहले से दोगुना हो गया तथा r.s.s. ने नरेंद्र मोदी को उनकी प्रतिभा को देखते हुए उन्हें आर एस एस के लेखन का काम सौंप दिया ।

इसके बाद सन 1985 में आर एस एस के आग्रह पर ही नरेंद्र मोदी ने भारतीय जनता पार्टी को ज्वाइन किया तथा भारतीय जनता पार्टी का गुजरात में जमकर प्रचार प्रचार किया ।

नरेंद्र मोदी ने अहमदाबाद नगर पालिका चुनाव में भारतीय जनता पार्टी का प्रचार किया और परिणाम स्वरूप भाजपा को उस चुनाव में बहुत अच्छी जीत हासिल हुई । इसके बाद भाजपा ने नरेंद्र मोदी पर विश्वास किया तथा अपने विश्वसनीय नेताओं की सूची में उन्हें शामिल कर लिया।

नरेंद्र मोदी का राजनीतिक जीवन क्रमशः Narendra Modi Political Career continued

  • नरेंद्र मोदी ने भारतीय जनता पार्टी को सन 1987 में ज्वाइन किया तथा लगातार भारतीय जनता पार्टी के उत्थान के लिए काम करते रहे ।
  • नरेंद्र मोदी ने सन 1990 में लालकृष्ण आडवाणी की रथयात्रा के संचालन के लिए अपना पूर्ण योगदान दिया । रथ यात्रा की नीति का निर्माण करने में उनका प्रमुख योगदान था । इस रथयात्रा के बाद उन्हें भारतीय जनता पार्टी में एक कद्दावर नेता के रूप में देखा जाने लगा ।
  • सन 1990 में गुजरात में हुए विधानसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी ने प्रचार प्रसार किया तथा भारतीय जनता पार्टी को मजबूती प्रदान की ।
  • सन 1995 के विधानसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी के प्रचार प्रसार एवं नेतृत्व के कारण भारतीय जनता पार्टी को 121 सीटें प्राप्त हुई जिस कारण गुजरात में पहली बार भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनी । लेकिन यह सरकार केवल 1 साल के बाद ही गिर गयी ।

इसके बाद भी नरेंद्र मोदी भारतीय जनता पार्टी के लिए लगातार काम करते गए तथा उनके काम करने का यह परिणाम निकला कि भाजपा एक के बाद एक जीत हासिल करके चली गई । भारतीय जनता पार्टी एक राष्ट्रीय स्तर की पार्टी बनी, जिसमें नरेंद्र मोदी का योगदान अत्यंत महत्वपूर्ण माना जाता है । भारतीय जनता पार्टी में नरेंद्र मोदी का नाम अटल बिहारी वाजपेई, लाल कृष्ण आडवाणी के बाद तीसरे नंबर पर लिया जाता है ।

नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में Narendra Modi as a Chief Minister

सन 2001 के गुजरात विधानसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी ने पहली बार मुख्यमंत्री के उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ा ।उन्होंने राजकोट में अपनी सीट पर प्रचंड बहुमत के साथ जीत हासिल की ।

हालांकि उस समय गुजरात पार्टी के एक दूसरे कद्दावर नेता भी थे केशुभाई पटेल तथा माना यह जा रहा था कि केशुभाई पटेल को ही गुजरात का मुख्यमंत्री बनाया जाएगा । लेकिन बताया यह जाता है, कि केशुभाई पटेल की तबीयत खराब होने के कारण गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी को बनाया गया तथा नरेंद्र मोदी ने 7 अक्टूबर 2001 में गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में पहली बार शपथ ग्रहण की ।

इसके बाद सन 2007 के विधानसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर से प्रचंड बहुमत के साथ गुजरात में जीत हासिल की तथा दोबारा से गुजरात के मुख्यमंत्री के पद पर बैठ गए ।

मोदी जी ने मुख्यमंत्री के पद पर रहते हुए गुजरात में बहुत से विकास कार्य किय ।  उन्होंने कृषि, बिजली, टेलीकॉम आदि क्षेत्रों में बहुत योगदान दिया ।

उनकी मनपसंद नीति थी ग्लोबल मैन्युफैक्चरिंग एपीसेंटर । मोदी जी चाहते थे कि भारत में दुनिया की सबसे बड़ी मैन्युफैक्चरिंग यूनिट तैयार हो तथा भारत आर्थिक रूप से भी विश्व गुरु बन कर सामने आए ।

सन 2012 में मुख्यमंत्री पद का कार्यकाल समाप्त होने के बाद दोबारा गुजरात विधानसभा के चुनाव हुए तथा इस बार फिर मोदी जी नहीं प्रचंड बहुमत के साथ जीत हासिल की और एक बार फिर से गुजरात के मुख्यमंत्री पद का प्राप्त किया तथा गुजरात के मुख्यमंत्री बने जो अपने आप में इतिहास था कि एक व्यक्ति लगातार तीन बार विधानसभा चुनाव जीता तथा मुख्यमंत्री बना ।

नरेंद्र मोदी भारत के प्रधानमंत्री के रूप में Narendra Modi as a Prime Minister of India

लगातार तीन बार जीत हासिल करने के बाद नरेंद्र मोदी भारतीय जनता पार्टी के सबसे दमदार तथा सबसे बड़े नेता बन गए । भारतीय जनता पार्टी को उनमें भारत के प्रधानमंत्री का चेहरा दिखाई देने लगा ।

सन 2014 में होने वाले लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने नरेंद्र मोदी को लोकसभा चुनाव का प्रचार प्रसार करने के लिए आग्रह किया तथा उनसे कहा कि पार्टी उन्हें प्रधानमंत्री के रूप में देखना चाहती है । यही कारण था कि 2014 के आम चुनाव से पहले ही नरेंद्र मोदी को भारतीय जनता पार्टी का अध्यक्ष बना दिया गया ।

उस समय भारतीय जनता पार्टी के एक दूसरे बड़े नेता थे लालकृष्ण आडवाणी । हालांकि पार्टी का अध्यक्ष बनने के हकदार लालकृष्ण आडवाणी थे । लेकिन नरेंद्र मोदी की शानदार जीत तथा उनके बढ़ते हुए राजनीतिक कद के कारण पार्टी ने लालकृष्ण आडवाणी को दरकिनार करते हुए नरेंद्र मोदी को ही पार्टी का अध्यक्ष बनाया तथा उन पर भरोसा जताया ।

सन 2014 के आम चुनाव में नरेंद्र मोदी ने खूब मेहनत की उन्होंने एक के बाद एक 437 चुनावी रैलियां की जो अपने आप में एक रिकॉर्ड थी । क्योंकि इतनी उम्र में एक साथ 437 रेलिया करना कोई आसान काम नहीं था ।

उन्होंने भारत के कोने कोने में जाकर भाजपा का प्रचार प्रसार किया और इसका परिणाम यह निकला कि 2014 में भारतीय जनता पार्टी की सुनामी आई तथा नरेंद्र मोदी भारत के 14 वे प्रधानमंत्री बन कर सामने आए । इस ऐतिहासिक जीत में भारतीय जनता पार्टी में 534 में से 282 सीटों को हासिल कर पूर्ण बहुमत प्राप्त किया।

सन 2019 में नरेंद्र मोदी का कार्यकाल समाप्त होने के बाद दोबारा लोकसभा चुनाव हुए तथा इस चुनाव में भी नरेंद्र मोदी ने अपनी पिछली जीत को दोहराया तथा एक बार फिर भारत के प्रधानमंत्री बन कर सामने आए । 2019 के लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को 534 में से 303 सीटें प्राप्त हुई जो पिछली बार के बहुमत से भी ज्यादा थी ।

2019 में लोकसभा चुनाव में सभी विपक्षी पार्टियां धराशाई हो गई । जनता नरेंद्र मोदी के काम तथा उनके नाम से इतना खुश थी कि चारों तरफ नरेंद्र मोदी का ही नाम था तथा इस जीत के बाद लोगों ने उन्हें नमो का नाम दिया ।

वर्तमान में यह लेख लिखे जाने तक भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी है, तथा उनके अच्छे स्वास्थ्य की शुभ कामना करते है ।

नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू की गई विभिन्न सरकारी योजनाएं Govt. Schemes of Narendra Modi

प्रधानमंत्री के पद पर रहते हुए नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रहित में तथा देश के विकास के लिए अनेक योजनाओं को शुरू किया ।उनकी सभी योजनाएं आम जनता, गरीब मजदूरों, किसानों तथा महिलाओं के लिए थी जो कि इस प्रकार है ।

स्वच्छ भारत अभियान

यह अभियान भारतीय जनता पार्टी की महत्वाकांक्षी योजनाओं में एक था । इसके अनुसार भारतीय जनता पार्टी का उद्देश्य भारत को एक स्वच्छ राष्ट्र बनाना था । इस योजना के तहत भारत के शहर शहर तथा गांव गांव में लाखों-करोड़ों शौचालयों की शुरुआत की गई । अमिताभ बच्चन अक्षय कुमार ने इस अभियान विज्ञापन भी किया था ।

प्रधानमंत्री जनधन योजना

इस योजना के तहत गरीब किसानों, महिलाओं के बैंक अकाउंट खुलवाए गए, जिसमें सरकार द्वारा कहा गया कि विभिन्न सरकारी योजनाओं के द्वारा मिलने वाले लाभ को इस बैंक अकाउंट में प्राप्त किया जा सकेगा । इसके अलावा किसानों को एवं मजदूरों को विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ भी इसी अकाउंट के माध्यम से दिया जाएगा ।

प्रधानमंत्री उज्ज्वला

योजना इस योजना के तहत गरीब परिवार की महिलाओं को गैस के सिलेंडर प्रदान किए गए जिनके पास पहले से ही कोई गैस का कनेक्शन नहीं था ।

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना

इस योजना को किसानों को लाभ देने के लिए बनाया गया । इस योजना का उद्देश्य था कि किसान अपने खेत की सिंचाई कम पैसों में सही प्रकार से कर सकते है, तथा उन्हें सरकार की तरफ से सहयोग मिल सके ।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना

यह योजना किसानों के लिए बनाई गई थी । इस योजना के तहत किसानों की फसल का बीमा करने का प्रावधान था ताकि किसी भी प्राकृतिक आपदा दुर्घटना के कारण यदि किसान की फसल नष्ट हो जाए तो उसे मुआवजा मिल सके ।

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना

इस योजना के तहत नव युवकों को रोजगार के नए अवसर प्रदान करने के लिए प्रशिक्षण एवं सुविधाएं प्रदान की गई ।

मेक इन इंडिया योजना

इस योजना का उद्देश्य भारत को आत्मनिर्भर बनाना था । इस योजना के तहत भारत में विभिन्न मैन्युफैक्चरिंग यूनिट्स का निर्माण करना था ताकि भारत हर चीज का निर्माण खुद कर सके तथा आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर हो सकें ।

इसके अलावा भी बहुत सी ऐसी योजनाएं थी जो नरेंद्र मोदी जी के द्वारा शुरू की गई ।

तो दोस्तों यह हमने आपको इस लेख में भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बारे में बताया । यह आपको कैसा लगा अपने विचार कमेंट के माध्यम से जरूर बताएं ।


Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *